HomeInformationalपेगासस (Pegasus) क्या है : Pegasus Spyware से जासूसी कैसे होती है...

पेगासस (Pegasus) क्या है : Pegasus Spyware से जासूसी कैसे होती है ?

पेगासस (Pegasus) क्या है : आज हम आपको बताने वाले है पेगासस क्या है |और ये कैसे काम करता है |और सुप्रीम कोर्ट और कांग्रेस उपाध्यछ राहुल गाँधी ने इस पर कैसे सवाल उठाये |तो आइये जाने इसके बारे में ?

आज के समय में हम online न जाने कितनी ही चीज़े करते है |जैसे शोपिंग ,ऑनलाइन पेमेंट ,हमरी पर्सनल फोटोज व एनी निजी जानकारियां जो शायद हम अपने किसी खास को भी न बताये |ऐसे में वो निजी जानकारी अगर किसी के द्वारा निकाल ली जाए |तो हमारे लिए कितना खतरनाक हो सकता है |खास कर जब हमारे देश की निजी जानकारी किसी और देश को लगे |

आज हम इसी के बारे में बात करेंगे की भारत और दुनिया भर में हुए पेगासस के साइबर हमले कैसे हुए |कैसे पेगासस की इतना विकसित हो गया की उसने i फ़ोन को भी हैक कर लिया |

Diwali Decoration Ideas For Home in Hindi : दिवाली पर घर को कैसे सजाएं?

स्पाईवेयर क्या है | Spyware in Hindi

स्पाईवेयर जैसा की इसके नाम से पता चलता है की |ये साइबर से सम्बंधित एक शब्द है |इसका इस्त्तेमाल जासूसी करने वाले सॉफ्टवेयर में इस्तेमाल किये जाने वाला मेलवेयर है |जिसका उदेश्य होता है |लोगो के निजी डाटा को जैसे फोटोज ,वीडियोस ,सन्देश ,कॉल्स और चेट्स आदि को देखने के लिए किया जाता है |इसे द्वारा किसी भी व्यक्ति की गतिविधि पर नज़र रखने के लिए किया जाता है |कुछ कंपनियां अपने यहान्खुद इसको सॉफ्टवेयर में डलवाती है ताकि कर्मचारी इसका सही तरीके से इस्तेमाल कर सके |

पेगासस (Pegasus) क्या है –

आपको बता दे दुनिया भर में आये दिन नए नए आविष्कार होते ही रहते है |कुछ अविष्कार लोगो की भलाई के लिए किये जाते है |वही कुछ लोग ऐसे है जो विज्ञान का गलत इस्तेमाल करके |लोगो की सुरछा के लिए बहुत खतरा उत्पन्न करते है |जिनका इस्तेमाल लोगो के शोषण के लिए किया जाता है |यही है उनमे से एक पेगासस (Pegasus) ये एक जासूसी करने वाला सॉफ्टवेयर है |आपको बता दे की ये अब तक का स्पाईवेयर में सबसे उन्नत है |जो इसे खतरनाक बनता है |आपको बता दे ये इसराइल की कंपनी NSO द्वारा विकसित किया गया |

आपको बता दे की स्पाईवेयर अभी अभी चर्चा में आया है |लेकिन पहली बार इसका जिक्र 2016 में आया था |जिसमे सयुंक्त अरब अमीरात में एक मानवधिकार कार्यकर्ता को उनके i फ़ोन पर एक sms लिंक से उनको निशाना बनाया गया ||फिर इसके बाद ये 2019 में व्हाट्सअप ने भी मना की उनके यूजर को भी स्पाईवेयरसे प्रभवित हुए है |उनके द्वारा अमेरिका के संघीय न्यायालय में NSO ग्रुप के खिलाफ मुकदमा दायर किया गया था |

NSO और Whatsup विवाद (पेगासस (Pegasus) क्या है )

आपको बता दे की फेसबुक के स्वामित्व वाली कंपनी व्हाट्सअप ने 2019 में Nso के खिलाफ मुकदमा अमेरिका के संघीय न्यायालय में दायर किया था |उनका आरोप था की नसों ने उनके 1400 यूजर को मेलवेयर भेजने का आरोप लगाया |जिसमे कई दुनिया के बड़े पत्रकार और राजनेताओं और मानवधिकारो कार्यकर्ताओ के स्मार्टफ़ोन पर भेजा गया |
वही Nso के द्वारा जबाब में कहा गया की की पेगासस जैसे टूल्स का इस्तेमाल करने का अधिकार केवल सरकार और सरकारी एजेंसी को ही देती है
जिसके द्वरा देश की सुरछा और को आतंवाद और अन्य अपराधो से लड़ने में मदद मिल सके |लेकिन पत्रकारों और राजनेताओ का कहना है |की दमनकारी सरकारे इसका इस्तेमाल जासूसी करने के लिए इसका उपयोग करती है |

कैसे उपयोग होता है Pegasus Spyware

आपको बता दे को इसको बहुत ही एडवांस तकनीक के साथ बनाया गया है |इसके द्वारा यदि उपयोकर्ता को एक लिंक सेंड की जाए और जैसे वो उस पर क्लिक करता है |हैकर को फिर उस फ़ोन पर बिना परमिशन के पूरा नियत्रण मिल जाता है |जिसके द्वारा वो यूजर की हर एक्टिविटी पर नज़र रख सकता है |और ईमेल के माध्यम से भी किसी भी व्यक्ति के फ़ोन में इसे इनस्टॉल किया जा सकता है |

आपको बता दे की यह एक इतनी उन्नत किस्म का सॉफ्टवेयर है |की इसको मात्र किसी यूजर के मोबाइल पर मात्र मिसकाल के द्वारा ही फ़ोन में इसे डाला जा सकता है |पेगासस अन्य सॉफ्टवेयर के मुकाबले सबसे ज्यादा उन्नत है |यहाँ तक की एप्पल कंपनी जो अपने i phone को सिक्यूरिटी के लिए जानी जाती है |पेगासस की पहुँच उस तक भी हो गयी |

यह किसी मोबाइल को कहाराब करने के लिए यहाँ उस फ़ोन में मोजूद खामियों की मदद से आसानी से हैक कर सकता है |जिसमे उसे लिंक पर क्लिक की भी आवश्यकता नहीं होती है |आपको बता दे की ये ऐसे डिज़ाइन किया गया है की यूजर को पता भी नहीं चलता |की उसका फ़ोन अब किसी और के भी नियंत्रण में है |

भारत में किसके फोन हुए हैक? (पेगासस (Pegasus) क्या है )

आपको बता दे की कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, भाजपा के मंत्रियों अश्विनी वैष्णव और प्रह्लाद सिंह पटेल, पूर्व निर्वाचन आयुक्त अशोक लवासा और चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर उन लोगों में शामिल हैं | जिनके फोन नंबरों को इजराइली स्पाइवेयर के जरिए हैकिंग के लिए नाम सामने आया है । एक अंतरराष्ट्रीय मीडिया ने यह जानकारी दी। वही पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के सांसद अभिषेक बनर्जी और भारत के पूर्व प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई पर अप्रैल 2019 में यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली उच्चतम न्यायालय की कर्मचारी और और उनके रिश्तेदारों के फ़ोन्स को निशाना बनाया गया |

रिपोर्ट के अनुसार सूची में राजस्थान की मुख्यमंत्री रहते वसुंधरा राजे सिंधिया के निजी सचिव और संजय काचरू का नाम सामने आया था | इस सूची में भारतीय जनता पार्टी से जुड़े अन्य जूनियर नेताओं और विश्व हिंदू परिषद के नेता प्रवीण तोगड़िया का फोन नंबर भी शामिल था।

भारत सरकार का क्या है पक्ष?

भारत सरकार के द्वारा कहा गया था की ये पूरी तरह से बेबुनियाद है। वही केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, ”इस तथाकथित रिपोर्ट के लीक होने का समय और फिर संसद में ये व्यवधान, इसे जोड़कर देखने की आवश्यक्ता है। यह एक विघटनकारी वैश्विक संगठन हैं जो भारत की प्रगति को पसंद नहीं करता है। ये अवरोधक भारत में राजनीतिक खिलाड़ी हैं |जो नहीं चाहते कि भारत प्रगति करे। भारत के लोग इस घटना और संबंध को समझने में बहुत परिपक्व हैं।’ उन्होंने कहा, “कल देर शाम हमने एक रिपोर्ट देखी, जिसे केवल एक ही उद्देश्य के साथ कुछ वर्गों द्वारा शेयर किया गया है।’ सरकार ने कहा है कि भारत में अवैध ढंग से इस प्रकार की जासूसी कराना संभव नहीं है।

क्या कहा राहुल गाँधी ने (पेगासस (Pegasus) क्या है )

27 अक्राटूबर को राहुल गांधी ने पेगासस जासूसी मामले को लोकतंत्र पर हमला बताया है। उन्होंने प्रेस कांफ्रेंस में केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि पेगासस को भारत में कौन लेकर आया? पेगासस को किसने खरीदा है? पेगासस को कोई प्राइवेट व्यक्ति खरीद ही नहीं सकता है। उन्होंने कहा कि हमने पेगासस का मुद्दा संसद में भी उठाया था। उन्होंने आगे कहा कि एसआईटी का गठन अच्छा कदम है। पेगासस सॉफ्टवेयर केंद्र सरकार की ओर से खरीदा गया है। राहुल गांधी ने कहा कि सरकार इस मामले पर जरूर कुछ ना कुछ छुपा रही है। इसी कारण वह कोई उत्तर नहीं दे रही है। उन्होंने कहा कि हम सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले का सम्मान करते हैं, इंतजार है तो बस रिपोर्ट आने का है।

Most Beautiful Tv Actresses in India : भारत की सबसे खुबसूरत टीवी एक्ट्रेस

पेगासस (Pegasus) क्या है – आज हमने बताया हाल ही में  चर्चाओ में आया नाम पेगासस क्या है |इसका इस्तेमाल कैसे होता है |और कैसे ये आपकी जानकारियों को आसानी से हैक करने में सक्छ्म है |क्यों राजनीति में है इसकी हलचल |आपको ये हमारा आर्टिकल पसंद आया है तो अपने दोस्तों के साथ शेयर ज़रूर करे और लिखे करे |और कमेंट करके बताये|

 

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

Most Popular

%d bloggers like this: