कैसे लगाए स्नेक प्लांट : Snake Plant Benefits in Hindi

कैसे लगाए स्नेक प्लांट : आज कल लोग कई तरह के पौधों का इस्तेमाल वास्तु शास्त्र के हिसाब से करते है |और घर की साज सजावट के लिए करते है |लेकिन कुछ ऐसे भी पौधे है जो आपके घर की सुन्दरता के साथ साथ आपके घर की हवा को भी साफ़ करते है |कई तरह हवा मोजूद कीड़ो को ख़तम करते है |हम बात कर रहे है स्नेक प्लांट की |यह एक प्रकार का सामान्य इंडोर प्लांट है |यह मुख्य रूप से एशिया और अफ्रीका का पौधा है |
इसके पत्ते ऊपर की तरह होते है |या आर्टिफीशियल पौधे की तरह ही नज़र आता है |इस पौधे की देखभाल भी ज्यादा नहीं करनी पड़ती है |और आप इसकी पत्ती को तोड़ कर नया पौधा भी तैयार कर सकते है |

स्नेक प्लांट की किस्में/प्रजातियाँ – Types of Snake plant in hindi

Types of Snake Plant in hindi

source

आपको बता दे वैसे स्नेक प्लांट की 50 से भी ज्यादा किस्मे होती है |लेकिन 4 ऐसी किस्मे होती है |जो ज्यादातर हर जगह  देखने को मिल जाती है |

  1. Black Gold – ये स्नेक प्लांट की एक लंबी किस्म होती है |जिसकी लंबी पत्तियां बीच में गाढ़े हरे रंग की होती हैं| और किनारे पीले रंग के होते हैं। यहाँ दिखने में बहुत ही खुबशुरत लगता है |
  2. Black Robusta – इस लंबी किस्म की पत्तियां गाढ़े हरे रंग की होती हैं और बीच-बीच में हल्के हरे रंग के लाइंस बनी होती हैं। ऐसी छोटी प्रजाति को Futura Robusta कहते हैं |इसकी ऊंचाई 6-8 इंच से ज्यादा नहीं होती। इसकी छोटी-छोटी पत्तियां गोलाई में फैला हुआ होता है |
  3. Golden Hahnii – यह एक छोटी वैराइटी है जिसके बीच में हल्के हरे रंग की पट्टी होती है और चौड़े किनारे पीले रंग के होते हैं।ये पौधा भी दिख्नेमे बहुत अच्छा लगता है |
  4. Cylindrica – इस किस्म की पत्तियां चपटी न होकर मोटी, गोल, बांस के अंकुरों जैसी शंक्वाकार होती हैं।

तुलसी का पौधा कैसे लगाएं : क्या है इसे लगाने के चमत्कारी फायदे ?

स्नेक प्लांट का पौधा लगाने का तरीका – How To Snake Plant in Hindi (कैसे लगाए स्नेक प्लांट)

स्नेक प्लांट इ बहुत ही लॉ केयर प्लांट में से एक है |रोज़ पानी या ज्यादा खाद की आवश्यकता नहीं होती |लेकिन आप अगर समय पर खाद देंगे तो इसकी ग्रोथ अच्छी होगी |आपको इसे लगाने के लिए एक मजबूत गमले का चयन करे क्योकि इसकी जेड बहुत मजबूत होती है |ऐसे में अगर आप प्लास्टिक का पौधा लेते है |तो इसकी जड़ो से टूट या गमले की शेप ख़राब हो सकती है |

मिट्टी और खाद – सबसे पहले आपको पॉट में एक छेद कर लेना है |जिससे गमले में से एक्स्ट्रा पानी निकलता रहे |और फिर आपको इसमें कंकड़ डाल देंने है |अब आप मिटटी का मिश्रण तैयार करेंगे |जिसमे आपको 50% गार्डन की मिटटी ,खाद 30 % और 20 % आपको इसमें रेत डाल देना है |अब इस मिश्रण को आप गमले में डाल कर पौधे को लगा सकते है |बालू मिट्टी होने से इसमें पानी जमा नहीं होता |और जड़ो के सड़ने का खतरा कम हो जाता है |

स्नेक प्लांट की पत्ती से नया पौधा बनाना – Snake plant propagation in hindi

सबसे पहले आपको किसी बड़े पौधे से एक 4 से 6 इंच का पत्ती को काट लेना है |फिर उष पर रूटिंग हार्मोन या ऐसे ही किसी मिट्टी के गमले में लगा सकते है हल्का सा पानी देना है |1 से दो हफ्तों में इसकी जेड निकल आएँगी |जब पत्तियां बड़ी हो जाए तो बडे गमले में इसको शिफ्ट कर देना है |आप इसको 3 से 4 दिन में पानी दे सकते है |और आप इसे धुप या छावों में कही भी रख सकते है |

स्नेक प्लांट की कटिंग को पानी में लगायें -(कैसे लगाए स्नेक प्लांट)

सबसे पहले आप 6 इंच की एक बड़ी सी पत्ति को लेना है |फिर इसे डिस्पोज़ल ग्लास में सिख की सहायता से आपको जमी से ऊपर रखना होगा |और इतना पानी रखना है |जितना की वो 2 से 3 इंच तक पौधा डूब सके |हर दो दिन बाद इसका पानी बदल दे |3 हफ्ते बाद इसमें सफ़ेद जड़े निकल आएगी फिर आप इसको गमले में शिफ्ट कर देना है |

Shade Growing Plants in Hindi : छाया में उगने वाले पौधे

स्नेक प्लांट के फायदे – Benefits of Snake Plant in Hindi

1.हवा को करता है फ़िल्टर –

कई घरेलु उत्पादों की तरह स्नेक प्लांट भी घर के अन्दर की हवा को फ़िल्टर यानि साफ़ करने में मदद करता है |यह एक विशेष प्रकार का पौधा है |जो खुबसूरत होने के साथ और भी कई फायदे होते है |यह पौधा रात में कार्बन डाईऑक्साइड को ऑक्सीजन में बदलने का कार्य करता है |यहाँ पौधा बेडरूम की सजावट के लिए एक आदर्श पौधा है |यह घर की वायु शुद्ध करने का कार्य करता है |

2.जहरीले गैस को हटाता है –

स्यह प्लांट को विषाक्त वायु प्रदूषकों की गैस को हटाने में बेहद मददगार है|यह प्रदूषित गैस को अब्सोर्ब करने की क्षमता के लिए भी जाना जाता है।आपको बता दे स्नेक प्लांट CO2, बेंजीन, फॉर्मलाडिहाइड, ज़ाइलिन और टोल्यूनि सहित कैंसर पैदा करने वाले प्रदूषित गैस को अवशोषित करने का काम करता हैं। हानिकारक विषाक्त पदार्थों को अवशोषित करने और निकालने की क्षमतातो होती है |लेकिन ये स्नेक प्लांट एयर प्यूरीफायर का कार्य करता है |

स्नेक प्लांट की कैसे देखभाल करे – Snake Plant Care Tips in Hindi

  1. आपको हमेशा इस पौधे को छावों वाली जगह पर रखना है |
  2. आपको इसमें पानी ज्यादा नहीं देना |क्योकि इसको पानी की कम ज़रुरत होती है एक इंडोर प्लांट है |आप 3 से 4 दिन में इसे पानी दे सकते है |
  3. इसको ज्यादा खाद की ज़रुरत नहीं होती है | लेकिन आप महीने में एक बार खाद देंगे तो प्लांट की ग्रोथ अच्छी होगी |
  4. आपको इसको हर एक दो दिन में पानी से स्प्रे करते रहे ताकि ये चमकदार बना रहे और कीड़े न लगे |
  5. सर्दियों में तो इसकी मिट्टी जब तक सुख न जाए इससे आपको पानी नहीं देना है |

कैसे लगाए स्नेक प्लांट : Snake Plant Benefits in Hindi– आज हमने बताया कैसे आप घर की हवा को शुद्ध करने स्नेक प्लांट बहुत ही अच्छा पौधा है |जिससे आप खुद और परिवार को साफ़ हवा दे सकते है |और आपके गार्डन की सुन्दरता बढ़ा सकते है | आपको ये हमारा आर्टिकल पसंद आया है तो अपने दोस्तों के साथ शेयर ज़रूर करे और लिखे करे |और कमेंट करके बताये|