स्टैमिना कैसे बढ़ाये ?- How to Increase Stamina Naturally in Hindi

स्टैमिना कैसे बढ़ाये : हमने देखा है की हम वर्कआउट करते समय थोड़ी ही देर में थक जाते हैं? ऐसे में कुछ दूर दौड़ते या ज्यादा चलते ही हिम्मत जवाब दे देती है और हम थक जाते हैं? सामान्य-सा काम भी हमको ज्यादालगने लगता है |और ज्यादा  देर तक नहीं कर पाते? अगर वाकई ऐसा होता है .तो समझ जाइए कि स्टैमिना कमजोर हो रहा है। ये सभी स्टैमिना की कमी के लक्षण ही माने जाते हैं। ऐसे में स्टैमिना की कमी होने पर घबराने की नहीं, बल्कि जागरूक होकर जरूरी कदम उठाने होंगे।  यहां स्टैमिना बढ़ाने के घरेलू उपाय के साथ ही हम आपको स्टेमिना बढ़ने के तरीको के बारे में बतायेंगे |

स्टैमिना क्या है? – What is Stamina in Hindi (स्टैमिना कैसे बढ़ाये)

स्टेमिना एक प्रकार से हमरी शारीरिक छमता होती है |जिससे हमें ये पता लगता है बिना थके हम किती देर तक काम कर सकते है |अगर हम थोड़ी थोड़ी देर में ही काम करने में थक जाते है तो मतलब साफ़ है, की हमारा स्टेमिना कमजोर है |

स्टेमिना कैसे बढ़ाने के उपाय और तरीके – Methods of Increasing Stamina in Hindi

आज हम आपको कुछ ऐसे तरीको के बारे में बताने जा रहे है जो प्रभावी रूप से आपके स्टेमिना बढ़ने में मदद करेंगे |तो आइये जाने क्या है वो तरीके-

1 .नियमित व्यायाम करें

आज के समय में सबसे ज़रूरी है की आप रोजाना व्यायाम ज़रूर करे |ऐसे में आपका न केवल स्टेमिना सही रहेगा आप स्वस्थ भी रहेंगे |स्टेमिना बढ़ने के लिए आप कई तरह की एक्स्सरसाइज़ कर सकते है ऐसे में आप रोजाना जॉगिंग और टहल सकते है |आप रोजाना 30 मिनट excercise कर सकते है |दौड़ना एक स्टेमिना बढ़ने का एक बढ़िया विकल्प साबित होगा |अगर आपको अपना स्टेमिना बढ़ाना है तो आपको सुबह व्यायाम तो करना चाहिए |

ट्रेडमिल के फायदे : Treadmill Workout For Weight Loss in Hindi

2. ध्यान और योग (स्टैमिना कैसे बढ़ाये)

जब हम मन को किसी एक बिन्दुं की ओर केन्द्ररित करे और बिकुल उसमे तल्लीन हो जाए बाहरी चीजों बिलकुल न सोचे वो ध्यान होता है |ईश्वर की उपासना का सर्वोच तरीका ध्यान होता है |केवल आँखे बंद करना ही ध्यान नहीं होता |बल्कि बाहरी दुनिया को भूल कर किसी और दुनिया में चले जानाया किसी एक बिंदु पर ध्यान केन्द्रदित करना है |इससे आपके मष्तिस्क को शान्ति का अनुभव होगा और दिमाग तेज करने में भी वृद्धि होगी |इसलिए इस योग को भी आपको ज़रूर करना चाहिए |

3. कैफीन के सेवन से (स्टैमिना कैसे बढ़ाये)

आज कल हम कई प्रकार के पेय खाद्य पदार्थों का सेवा करते है | कैफीन के कारण शरीर में लिपिड यानी वसा तोड़ने की लिपोलिसिस प्रक्रिया होती है। इससे शरीर की ऊर्जा को बढ़ावा मिल सकता है। साथ ही कैफीन से शरीर को एर्गोजेनिक यानी शरीर की कार्य क्षमता बढ़ाने का लाभ भी मिलता है। शोध से पता चला है कि लगभग 6 मिलीग्राम कैफीन स्टैमिना को बेहतर कर सकता है |

4. संगीत सुनें

संगीत हमारे लिए वरदान से कम नहीं है |अगर कुछ समय खली समय में संगीत सुने तो आपकी दुनिय्भर की टेंशन एक पल में दूर हो सकती है |ऐसे में आपको कुछ वक़्त संगीत के लिए ज़रूर  निकाले|स्टैमिना बढ़ाने में संगीत की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक मेडिकल रिसर्च के मुताबिक, संगीत व्यायाम की अवधि और शरीर की कार्य क्षमता को बढ़ा सकता है  ऐसे में स्टेमिना बढ़ाने के उपाय के तौर पर संगीत का सहारा लिया जा सकता है।

5. धूम्रपान छोड़ें

अगर आप स्टेमिना बढ़ाना चाहते है तो आज ही से धूम्रपान का सेवन बंद कर दे |ये न केवल हमारे शरीर के स्टेमिना को कम करता है |बल्कि हमारे शरीर में आगे चल कर कई तरह की बड़ी बिमालियों को भी जन्म देता है |धूम्रपान से निकोटीन और कार्बन मोनोऑक्साइड शरीर के अंदर पहुंचते हैं। इससे रक्त धमनियां नष्ट हो सकती हैं। संकीर्ण धमनियां हृदय, मांसपेशियों और शरीर के अन्य अंगों में रक्त के प्रवाह को कम करती हैं|इसके सेवन से हमारा इम्युनिटी सिस्टम कमजोर होता है |और हम किसी न किसी बिमारी का शिकार होते रहते है |

6. सोडियम का स्तर (स्टैमिना कैसे बढ़ाये)

शरीर मे सोडियम का रहना भी स्टैमिना को बनाए रखने के लिए  बेहद जरूरी होता है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित अध्ययन के अनुसार, तरल पदार्थ और सोडियम की कमी से शारीरिक गतिविधि पर नकारात्मक असर पड़ सकता है। शोध में बताया गया है कि व्यायाम के समय शारीरिक कार्य क्षमता को बढ़ाने के लिए उचित मात्रा में सोडियम का स्तर शरीर में बना रहना चाहिए |

7. प्रोटीन यक्त आहार

स्टेमिना बढ़ाने के घरेलू उपाय के रूप में प्रोटीन से भरपूर खाद्य पदार्थो का सेवन किया जा सकता है।इन पदार्थों से मिलने वाला प्रोटीन मांसपेशियों के निर्माण, विकास और मजबूती के लिए कारगर होता है। दरअसल, प्रोटीन धीरे-धीरे पचता है और शरीर को भरपूर ऊर्जा व स्टैमिना देता है। इसी वजह से प्रोटीन युक्त भोजन का सेवन करके दिन भर व्यक्ति एक्टिव महसूस कर सकता है |इससे हमारे शरीर में स्टेमिना की कमी नहीं होती |

8. अल्कोहल से दूर रहें

आपको बता दे अल्कोहल का सेवन करने गलत असर स्टैमिना पर दिखाई देता है। इसके सेवन से ऊर्जा में कमी हो सकती है | जो हमारे शरीर के लिए सही नहीं है  है| एनसीबीआई पर पब्लिश मेडिकल रिसर्च के मुताबिक, अल्कोहल की अधिक मात्रा से रक्त प्रवाह और प्रोटीन के अवशोषण पर भी हानिकारक प्रभाव पड़ सकता है। यह हमारे शरीर में प्रोटीन को अवशोषित करते है |और हमारे इम्युनिटी स्स्तेम पर भी बुरा प्रभाव डालते है |

स्टैमिना बढ़ाने के लिए क्या खाएं – Diet To Increase Stamina in Hindi (स्टैमिना कैसे बढ़ाये)

आज हम आपको बताएँगे की कैसे आप अपना स्टेमिना बढ़ा सकते है |आपको बता दे स्टेमिना बढ़ाने के तरीके में सिर्फ एक्सरसाइज ही नहीं, और भी शरीर को पर्याप्त पोषण देना भी शामिल है। ऐसे में पौष्टिक खाद्य पदार्थ शरीर को भरपूर ऊर्जा देने के साथ ही स्टैमिना बढ़ाने में बेहद अहम् होते हैं । जानिए स्टैमिना के लिए कौन-कौन से खाद्य पदार्थों का सेवन कर सकते हैं।(स्टैमिना कैसे बढ़ाये)

  1. प्रोटीन : ब्रोकली, पालक, मशरूम, फूलगोभी, केल, जलकुंभी, मटर, ओट्स, बीन्स, बादाम, चावल, वीट ब्रेड, मूंगफली, काजू ,दूध ,अंडा ,पनीर आदि।
  2. कैल्शियम: दूध, केल, टोफू, तिल के बीज, , किडनी बींस और बादाम।
  3. आयरन: पालक, शतावरी,हरी सब्जी , स्विस चार्ड, ब्रोकली, टोफू, दाल, कद्दू के बीज, तिल के बीज और सोयाबीन।

स्टैमिना बढ़ाने के लिए कुछ और टिप्स – Other Tips To Increase Stamina in Hindi

कुछ और ऐसे टिप्स जो आपके स्टेमिना बढ़ने में आपकी मदद करेंगे |

5 फिटनेस टूल घर में इस्तेमाल करें : How to Use Fitness Tools at Home in Hindi

1. पानी का सेवन

हमारे शरीर के लिए सबसे ज़रूरी है की आप नियमित रूप से पानी का उचित मात्स्टैर में सेवन करे |स्टेमिना बढ़ाने के लिए पानी जरूरी है। पानी की कमी हमारे शरीर में कई तरह की कमी कर सकती है और हमारा स्टेमिना भी घट सकता है | शरीर के एंड्यूरेंस (सहनशक्ति) को बढ़ाने में मदद करता है। एनसीबीआई द्वारा प्रकाशित एक अध्ययन की मानें, तो व्यायाम से पहले हाइड्रोजन युक्त पानी पीने से थकान कम हो सकती है और स्टैमिना को बढ़ावा मिल सकता है। बस तो पर्याप्त ऊर्जा पाने और थकान से बचने के लिए खूब पानी पिएं।दिन में आपको कम से कम 12 गिलास पानी पीना चाहिए |

2.आराम

हमारी जिंदगी का बेहद अहम् हिस्सा है |हमारी नींद अगर आप सही से नींद पूरी नहीं करेंगे तो आप पूरा दिन थका और कमज़ोर महसूस करेंगे |पर्याप्त आराम करने से व्यक्ति तरोताजा और ऊर्जावान रहता है। इसी तरह व्यायाम के दौरान भी थोड़ी देर का आराम लेने से स्टैमिना बढ़ सकता है। इससे ऊर्जा बढ़ाने में भी मदद मिल सकती है। इसी वजह से लगतार एक्सरसाइज करने की जगह कुछ सेकंड या मिनट आराम ले लेकर व्यायाम करें और किसी अन्य कार्य की वजह से थकावट हो गई है, तो भी आराम करने के बाद ही दूसरा काम शुरू करें ।

3. पर्याप्त नींद

हमारे शरीर के स्टैमिना को बढ़ाने के लिए पर्याप्त नींद लेना भी बेहद जरूरी होता है। इसी वजह से रोजाना 7 से 8 घंटे सोना जरूरी है। रिसर्च में बताया गया है कि 6 घंटे से कम नींद लेना आमतौर पर सेहत के लिए खराब होता है। नींद पूरी लेने से शरीर को पर्याप्त आराम मिलता है और स्टैमिना भी बढ़ सकता है।और आपका इम्युनिटी सिस्टम भी मजबूत होता है |

4. वजन की नियमित जांच करें

आपको स्टेमिना बढ़ने के लिए वजन की नियमित जांच जरूरी है। ऐसे कम वजन का होना चिंता का विषय है | और इसका संबंध कुपोषण या किसी बीमारी से हो सकता है, जिससे स्टैमिना पर भी  बुराअसर पड़ सकता है। इसके अलावा, अधिक वजन भीकई तरह की परेशानियाँ आ सकती है, क्योंकि मोटापे से ही हृदय रोग, उच्च रक्तचाप, टाइप 2 मधुमेह और हड्डी की कमजोरी जैसी बीमारियाँ बढाता है। ये सभी कारण व्यक्ति के स्टैमिना और इम्युनिटी सिस्टम को कमजोर कर सकते हैं |(स्टैमिना कैसे बढ़ाये)

स्टैमिना कैसे बढ़ाये – आज हमने बताया कैसे हम अपने स्टेमिना को बढ़ा सकते है |शरीर को स्वस्थ रख सकते है | आपको ये हमारा आर्टिकल पसंद आया है तो अपने दोस्तों के साथ शेयर ज़रूर करे और लिखे करे |और कमेंट करके बताये|