Evening Walk Benefits in Hindi : शाम को टहलने (श्याम की सैर) के फायदे

Evening Walk Benefits in Hindi : आज हम आपको बताएँगे की शेम की सैर के कितने फायदे होते |इससे न केवल आपकी सेहद अच्छी होगी बल्कि आपका पाचन शक्ति भी मजबूती होगी |क्योंकि श्याम कोताहलने के बेहद सारे होते है |

आप श्याम को पैदल चलना, तेज गति से टहलना और जॉगिंग कर सकते है ,जो सेहत के लिए फायदेमंद होता है |टहलना एक प्रकार का शारीरिक व्‍यायाम है। ज्यादातर लोगो का मनना है कि सुबह के समय ही टहलना या घूमना स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत ही अच्‍छा होता है। लेकिने क्या आप जानते है आप नियमित रूप से शाम के समय टहलने जाते हैं। अगर आपको नहीं पता तो जान लें कि शाम की सैर के फायदे भी होते हैं।

Evening Walk Benefits in Hindi : शाम को टहलने (श्याम की सैर) के फायदे

आज कल की लाइफस्टाइल में लोग कही न कही अपनी में इतना व्यस्त हो गए है |की वह अपने स्वास्थ का बिलकुल ध्यान नहीं रखते है | जबकि स्‍वस्‍थ जीवनशैली में इवनिंग वॉक के फायदे भी शामिल हैं। शाम को पैदल चलने के फायदे आपको बहुत सी स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं से दूर रख सकते हैं। शाम को दौड़ने के फायदे प्रमुख रूप से आपके शरीर की फिट‍नेस को बनाए रखने में प्रभावी होते हैं। आइये जाने क्या क्या है श्याम की सैर के फायदे |

1. पाचन के लिए

आपको बता दे की बेहतर पाचन के लिए शाम को टहलना फायदेमंद हो सकता है। वॉकिंग पर हुए एक शोध के मुताबिक से इस बात का जिक्र मिलता है कि भोजन के बाद टहलने से पाचन तंत्र बेहतर काम कर सकता है। साथ ही यह पेट के कैंसर, दस्त की समस्या, कब्ज की परेशानी के अलावा सूजन के जोखिम को भी कम कर सकता है। इस तथ्य के आधार पर यह कहना गलत नहीं होगा कि शाम को टहलने से पाचन क्रिया को लाभ मिल सकता है।

2. अवसाद से राहत (Evening Walk Benefits)

अगर आप अवसाद की समस्या से पीड़ित है |तो इसे कम करने के लिए भी शाम की सैर के फायदे देखे जा सकते हैं।क्योंकि इस विषय पर हुए एक शोध से जानकारी मिलती है |कि अवसाद की समस्या को कम करने के लिए टहलना आपके लिए एक अच्छा तरीका हो सकता है। दरअसल, यह तंत्रिका तंत्र उत्तेजित कर तनाव हार्मोन के उत्पादन को कम कर सकता है | जिससे अवसाद को कम करने में मदद मिल सकती है। इस आधार पर कहा सकते है |इसलिए अवसाद से राहत पाने के लिए शाम को टहलना लाभकारी हो सकता है।

Crunch Exercise Steps And Benefits In Hindi : क्रंच एक्सरसाइज करने के तरीके और फायदे

3. इम्यून सिस्टम बूस्ट करे

आपको बता दे टहलने से सबसे ज्यादा हमारे इम्युनिटी सिस्टम मजबूत होता है | इससे जुड़े एक शोध से जानकारी मिलती है |अगर हम रोजाना 30 मिनट तक टहलने से शरीर में ऑक्सीजन लेवल में बढ़ोतरी हो सकती है।इससे हमारा ब्लड सर्कुलेशन तेजी से बढ़ता है | साथ ही हृदय गति में सुधार हो सकता है और ब्लड काउंट में भी वृद्धि हो सकती है। इस तरह से वॉकिंग के जरिए इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाया जा सकता है ।

4. वजन घटाने के लिए

अगर आप वजन की समस्या की रोकथाम के लिए वॉकिंग को एक सबसे बेहतर तरीका माना जाता है। ऐसे में वजन घटाने के लिए शाम की सैर की जा सकती है। क्योंकि इस विषय से जुड़े एक शोध में पाया गया है |कि दोपहर के भोजन और रात के खाने के तुरंत बाद 30 मिनट के ब्रिस्क वॉक यानी तेजी से टहलने से 1.5 किलो वजन कम हो सकता है। जबकि खाना खाने के एक घंटे बाद टहलने से 3 किलो वजन कम हो सकता है । ऐसे में यह कहना गलत नहीं होगा कि वजन कम करने के लिए खाना खाने के एक घंटे के बाद की शाम की सैर करना फायदेमंद हो सकता है।

5. तनाव दूर करे

आप अगर शाम के समय खुले और स्वच्छ वातावरण में टहलने जाए | तो यह तनाव को भी दूर करने में मदद कर सकता है। क्योंकि हमारी दिनभर की सारी टेंशन को ख़तम कर सकता |जिससे हमारे मष्तिष्क को बेहद रहत मिलती है |और एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक अध्ययन में इस बात की पुष्टि मिलती है कि तनाव को दूर करने के लिए माइंडफुल वॉक करना लाभकारी साबित हो सकता है।

6. इम्यून सिस्टम बूस्ट करे (Evening Walk Benefits)

आपको बता दे टहलने से सबसे ज्यादा हमारे इम्युनिटी सिस्टम मजबूत होता है | इससे जुड़े एक शोध से जानकारी मिलती है |अगर हम रोजाना 30 मिनट तक टहलने से शरीर में ऑक्सीजन लेवल में बढ़ोतरी हो सकती है।इससे हमारा ब्लड सर्कुलेशन तेजी से बढ़ता है | साथ ही हृदय गति में सुधार हो सकता है और ब्लड काउंट में भी वृद्धि हो सकती है। इस तरह से वॉकिंग के जरिए इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाया जा सकता है ।

7 .पीठ दर्द में लाभकारी

आप जानते है की आज कल पीठ में दर्द होना एक आम बात है |ऐसे में महिलाओं को सबसे ज्यादा ये समस्या का सामना करा पड़ता है |वॉकिंग के फायदे पीठ दर्द में भी देखे जा सकते हैं। एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध में बताया गया है कि टहलना, एक आसान और सुलभ एक्सरसाइज है, जो क्रोनिक बैक पेन को कम करने में प्रभावी हो सकती है । इसके अलावा, अन्य शोध में भी पीठ दर्द को कम करने के लिए वॉकिंग को एक बेहतर विकल्प माना गया है। से में यह कहना गलत नहीं होगा |

8 .मांसपेशियों को मजबूत बनाए

वैसे तो टहलना बहुत ही सारे फायदे होते है |लेकिन शाम को टहलने से मांसपेशियों को भी मजबूत बनाने में मदद मिल सकती है। बताया जाता है कि टहलने से जांघ की मांसपेशियों के आकार और ताकत में बढ़ोतरी हो सकती है । वहीं, एक अन्य शोध से भी जानकारी मिलती है कि टहलने से शरीर की संरचना, मांसपेशियों के कार्य और शारीरिक कार्यों में काफी सुधार हो सकता है ।

9. अच्छी नींद के लिए

अगर आप श्याम को टहलने जाते है |तो आपको रात की अच्छी नींद के लिए भी शाम को टहलने के फायदे देखे जा सकते हैं।  कि सुबह के साथ-साथ शाम की सैर नींद की गुणवत्ता में सुधार कर सकती है।इसलिए ऐसे में खासतौर पर उम्रदराज लोगों को सलाह दी जाती है |कि बेहतर नींद के लिए उन्हें नियमित रूप से शाम को टहनले का रूटीन अपनी दैनिक जीवन में शामिल करना चाहिए। इससे मोटापा, हृदय रोग, अवसाद के अलावा मधुमेह की समस्या के जोखिमों को कम किया जा सकता है ।

दौडने के फायदे और कैसे करे शुरुवात : Running Benefits and Tips in Hindi

श्याम की सैर के लिए कुछ और टिप्स – Other Useful Tips for Evening Walking in Hindi

इसमें कोई शक नहीं है की शाम की सैर के फायदे कई सारे हैं।

  1. आपको हमेशा सैर के समय अपने शरीर को एकदम सीधा रखें।
  2. अगर हो सके , तो फास्ट वॉक यानी तेजी से टहलें। हालांकि, लेकिन इसकी शुरुआत पहले धीमी गति से ही करें।
  3. वॉकिंग पर जाने से पहले अधिक मात्रा में पानी का सेवन नहीं करना चाहिए । साथ ही वॉकिंग के बीच में रूक-रूक कर रेस्ट करके पानी पी सकते है |
  4. पानी ज्यादा न पिएं। अगर इस दौरान प्यास लगती है, तो एक से दो घूंट पानी पी सकते हैं।
  5. शाम की सैर के फायदे प्राप्त करने के लिए कम से कम 30 मिनट तक रोजाना जरूर टहलें।

Evening Walk Benefits in Hindi : – आज हमने बताया कैसे हम श्याम को टहल कर न केवल वजन कम होगा बल्कि अपने शरीर की मश्पेशियाँ को मजबूत कर सकते है |और भी कई सारे फायदे है जिससे आपके शरीर को स्वस्थ रख सकते है | आपको ये हमारा आर्टिकल पसंद आया है तो अपने दोस्तों के साथ शेयर ज़रूर करे और लिखे करे |और कमेंट करके बताये