बरसात के मौसम में क्या खाए और क्या नहीं जाने कैसा भोजन रखेगा आपको स्वस्थ

बरसात के मौसम में क्या खाए और क्या नहीं- वैसे तो जब तेज गर्मी से बरसात आती है तो हम रहत की सांस लेते है|जब मानसून की शुरुवात होती है तो हम उसका स्वागत बड़ी ख़ुशी से करते है|जब रिमझिम बारिश होती है कितनी सुहानी लगती है |लेकिन मानसून अपने साथ कई प्रकार की गंभीर बीमारियाँ भी साथ लाता है |जिसका अगर हम ठीक से ख्याल न रखे और नज़र अंदाज़ करे तो शरीर को कई समस्याओं का सामना करना पद सकता है |इसलिए मानसून का सही तरीके से आनंद लेने के लिए ज़रूरी है हम कुछ सावधानियां बरते |मानसून में सबसे ज्यादा प्रभाव हमारी पाचन शक्ति पर होता है|पेट में अपच जैसी गंभीर समस्या जाती है|

मौसमी फल और सब्जियों के सेवन से बढ़ेगी शरीर की प्रतिरोधक क्षमता-glibs.in

मानसून में नमी और गंदगी से कई प्रकार के रोग उत्पन्न होते है जैसे- डेंगू ,मलेरिया,टाईफाइड आदि कई तरह के रोग होते है |इन सब से बचाव के लिए हमें अपने घरो में अन्दर और बाहर हर जगह साफ़ सफाई का विशेष ख्याल रखना चाहिए |

सोयाबीन के फायदे मिलता है भरपूर प्रोटीन:Benifits Of Soyabean

बरसात के मौसम में क्या खाए और क्या नहीं जाने

शरीर की पाचन क्रिया के लिए स्वस्थ आहार लेना चाहिए |ऐसी चीजों से दूर रहे जो आपके शरीर को नुक्सान पहूँचाती है|जैसे जितना हो सके बाहर का कुछ न खाए जितना हो सके घर में बनी चीजो का ही सेवन करे |ज्यादा तेल और मसाले वाला न खाए |और अचार का सेवन कम कर दे| और उन फल सब्जियों और दालों का सेवन करना चहिये जिससे आपकी इम्युनिटी बढे ताकि बरसात में होने वाले इन्फेक्शन से आप बच सके |

Weight Loss Tips in Hindi:तेजी से वजन घटाने के उपाए और तरीके

बरसात के मौसम में क्या खाना चाहिए?

Fruits And Vegetables Sold At Cheap Rates Due To Weather Changes - टमामटर  10 रुपये तो मटर 20 रुपये किलो बिक रहा, मौसम की मार से सब्जियों के दाम में  आई कमी,

  1. बरसात के मौसम में ज़्यादा से ज़्यादा दही का इस्तेमाल करना चाहिए|इसलिए इस मौसम में आपको रोज़ाना ही एक कटोरी दही अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए. दही के सेवन से आपका पाचन अच्छा रहता है|
  2. आप नाश्ते में इडली का सेवन कर सकते हैं, जो कि आपके पाचनतंत्र के लिए बेहतर होता है. इसके साथ ही ज्यादा मात्रा में फाइबर वाली सब्जियों को अपनी डाइट का हिस्सा बनाना चाहिए.
  3. केला नाशपाती अमरुद जामुन मौसमी फल, लहसुन, प्याज भी पाचन के लिए बेहतर होता है. प्रोसेस्ड फूड और शुगर के साथ ही उन खाद्य पदार्थों के सेवन से भी बचना चाहिए जिसमें कार्बोहाईड्रेट की मात्रा खूब होती है.
  4. साबुत अनाज जैसे मोठ काले चने राजमा रामास में भरपूर मात्रा में पोषक तत्व, प्रोटीन, फायबर, विटामिन बी, एंटीऑक्सीडेंट्स समेत कई मिनरल्स (आयरन, जिंक, कॉपर, मैग्नीशियम) होते हैं. ऐसे में इनका सेवन इस मौसम में खूब किया जाना चाहिए.
  5. दक्षिण भारतीय फूड प्रोबायोटिक के अच्छे स्रोत होते हैं. इनमें इडली, डोसा और खमीर युक्त खाद्य पदार्थ आपके स्वास्थ्य के लिहाज से बेहतर होते हैं.

बरसात में क्या नहीं खाना चाहिए ?

  1. बरसात में तरबूज और खरबूज का सेवन नहीं करना चाहिए और आम के भी ज्यादा सेवन से बचना चाहिए |
  2. बोजन में नमक डालने से बचे और ज्यादा नमक वाले भोजन से बचे क्योंकि उससे उक्त रक्तचाप की समस्या हो जाती है |
  3. जिन लोगो को बरसात में एलर्जी की समस्या होती है उनको ज्यादा मसाले वाले खाने से बचना चाहिए क्योंकि ज्यादा मसाले वाला भोजन करने से शरीर का तापमान बढ़ता है जिससे शरीर में जलन होने की समस्या होती है |
  4. बरसात में तिल,सरसों और मूंगफली के तेल के ज्यादा सेवन करने से बचना चाहिए क्यांकि यहाँ भारी होता है और इससे हमारी इम्युनिटी कमज़ोर होती है|जिससे कई रोग आमंत्रित हो सकते है|
  5. अपने खाने में नीबूं टमाटर और इमली जैसी खट्टी चीजों को खाने से बचना चाहिए |

बरसात के मौसम में क्या खाए और क्या नहीं- आज हमने बताया कैसे आप बरसात में आपको किन किन चीजों का सेवन करना है और किसका नहीं | अगर आपको ये हमारा आर्टिकल पसंद आया है तो अपने दोस्तों के साथ शेयर ज़रूर करे और लिखे करे |